हरियाणा के शहीद जवान को केजरीवाल सरकार देगी 1 करोड़ || शहीद नरेंद्र सिंह के परिवार से मिलने पहुचें

पानीपत राजनीति विशेष स्टोरी

21  सितम्बर सोनीपत l

खरखोदा के थाना कलां गाव के बीएसएफ के जवान शहीद नरेंद्र सिंह के परिवार से आज दिल्ली मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल व आम आदमी पार्टी हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद पहुचें l दिल्ली मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमन्त्री मोदी ने कहा था पाकिस्तान के साथ लव लेटर लिखना बंध करो तो क्या पाकिस्तान के प्रधानमन्त्री के साथ केक काट कर देश के शहीदों का सम्मान करेंगे lअब कहाँ है उनका 56 इंच का सीना ? आखिर केंद्र सरकार इतनी बेबस क्यों नजर आ रही है ? प्रधानमन्त्री चुप क्यों है ? पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब क्यों नही दे सकता हमारा देश ?

केजरीवाल ने कहा..

शहीद नरेंद्र के साथ पाकिस्तान ने जो बर्बरतापूर्ण व्यवहार किया है उसका बदला हर हाल में लेना चाहिए और शहीद एक प्रदेश का नही बल्कि पुरे देश का होता है | एक जवान अपना सब कुछ न्योछावर करके देश की रक्षा करता है और अपने परिवार को छोड़ कर दिन-रात सरहद पर देश की जनता की सुरक्षा करता है ताकि हम शुकून से सो सके | उसके पीछे उसका परिवार उसके बिना हर त्यौहार मनाता है लेकिन हमारे राजनेता उनके दर्द को नही समझते l केजरीवाल ने शहीद नरेंद्र सिंह के सम्मान में दिल्ली के कानून बदलने की पहल करते हुए कहा कि शहीद नरेंदर का परिवार दिल्ली में रहता है और उनके सम्मान में दिल्ली सरकार केबिनेट की बैठक में प्रस्ताव लाएगी व मौजूदा कानून में बदलाव कर शहीद नरेंद्र के परिवार को 1 करोड़ की आर्थिक सहायता व परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी देने का प्रावधान करेंगी व सरकार परिवार की हर सम्भव सहायता करेंगी l

*खट्टर सरकार.. चिन्तन शिविर छोड़ शहीदों की चिंता करें :- जयहिंद

वही दिल्ली मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के साथ आम आदमी पार्टी हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद भी शहीद नरेंद्र के परिवार से मिले व उनकी दुःख की इस घडी में हमेशा उनके साथ होने की बात कही नवीन जयहिंद ने हरियाणा मुख्यमंत्री खट्टर को खरी खोटी सुनाते हुए कहा कि प्रदेश के जवान आये दिन शहीद हो रहे है लेकिन उनके पास उनके परिवार को सांत्वना देने तक का समय नही है  मुख्यमंत्री को चिंतन शिविर छोड़ कर प्रदेश के शहीदों की चिंता करें | राहगीरी छोड़ प्रदेश की चिंता करें l

हरियाणा के मुख्यमंत्री में तो इतना साहस नही जुटा पाए की प्रदेश की शहीद यहाँ होते हुए भी उन्हें आर्थिक मदद दे सके व मिल सके लेकिन दिल्ली मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने जो कदम उठाया है वो एक बार फिर से एतिहासिक व जनता के लिए उठाया गया कदम है जयहिंद ने कहा कि सभी नेता व जनप्रतिनिधि 1 महीन पाकिस्तान के बोर्डर पर बिताये ताकि उन्हें एक सैनिक का दर्द का पता चले कि किस तरह से एक सैनिक और उसका परिवार रहता है l

 


by

नीरज कुमार

सिटी तहलका 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *