तंवर विरोधी मुहिम हुई तेज रणजीत चौटाला ने दिया अल्टीमेटम

पानीपत म्हारा हरियाणा

तंवर विरोधी मुहिम हुई तेज रणजीत चौटाला ने दिया अल्टीमेटम

जैसे जैसे लोकसभा व विधान सभा चुनाव नजदीक आते जा रहे हैं वैसे वैसे कांग्रेस का अन्दरूनी संघर्ष तेज होता जा रहा है। याद रहे कि भूपेन्द्र सिंह हुड्डा गुट पिछले काफी अरसे से अशोक तंवर को कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटाने की मुहिम चलाए हुए है। जिसमे कांग्रेस के तकरीबन सभी विधायक हुड्डा के पक्ष मे लाॅबिंग करते आ रहे हैं। इस गुट बाजी के चलते ही जींद उपचुनाव व पांचो नगर निगम चुनाव मे कांग्रेस पार्टी, मुह की खा चुकी है। हालांकि गुट विशेष, हार का ठीकरा अशोक तंवर के सिर पर फोड रहे हैं।

कांग्रेस महासचिव गुलाम नबी आजाद के हरियाणा प्रभारी बनने के बाद हुड्डा गुट मे आस बंधी थी कि राहुल दरबार में गुलाम नबी उनके मनमाफिक लाॅबिंग करने मे सहायक सिद्ध होंगे। लेकिन अभी तक कोई बदलाव के संकेत ना आने से हुड्डा गुट मायूस बना हुआ है। हुड्डा गुट को अंदेशा है कि मनोहर लाल खट्टर कभी भी हरियाणा विधान सभा भंग कर सकते हैं । इसके अलावा चुनाव आयोग ने यदि चुनाव की तारिख घोषित कर दी तो तंवर का बदलना मुश्किल हो जाएगा। इसलिए अब राहुल दरबार को दुष्यंत चौटाला का नाम लेकर डराया जा रहा है। राहुल दरबार मे यह कहलवाया जा रहा है कि यदि भूपेन्द्र सिंह हुड्डा को कांग्रेस की कमान नही दी गई तो हरियाणा का जाट मतदाता कांग्रेस से खिसक जाएगा ओर इसका लाभ जे जे पी ओर भाजपा उठाएगी। इसी तर्ज पर चौधरी देवी लाल के पुत्र रणजीत सिंह चौटाला भी यह कहते दिख रहे हैं कि यदि हरियाणा मे नेत्रत्व नही बदला गया तो कांग्रेस के काफी बडे चेहरे कोई बडा फैसला भी ले सकते हैं। जाहिर तौर पर कांग्रेस के 70 पार नेता आर पार की लडाई के तेवरो मे नजर आते प्रतीत हो रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *