बी.टेक के स्टूडेंट की जिम जाते समय गोली मारकर हत्या।। जिम के पास ही घात लगाए बैठे थे हमलावर।। सरपंच समेत 3 के खिलाफ मामला दर्ज

मृतक के परिजन
विशेष स्टोरी सोनीपत

सोनीपत के खरखौदा में रविवार शाम उस समय एक बीटेक के स्टूडेंट की गोली मारकर हत्या कर दी गई, जब वह जिम जा रहा था। हमलावर वारदात के समय जिम के पास ही घात लगाए बैठे थे। इस मामले में सरपंच सहित तीन पर मामला दर्ज कर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सोनीपत के सिविल अस्पताल भेज दिया।

जानकारी के अनुसार पीपली गांव निवासी आशीष बीटेक का स्टूडेंट है। रविवार शाम को वह खरखौदा के पास रामपुर कुंडल गांव स्थित जिम में जा रहा था। जैसे ही वह जिम के पास पहुंचा, तभी वहां घात लगाए बैठे लोगों ने आशीष पर ताबड़तोड़ 3 बार गोलियां दागी। आशीष ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। हमलावर घटना को अंजाम देकर वहां से फरार हो गए। पुलिस ने सूचना मिलते ही घटना स्थल पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर सोनीपत के सिविल अस्पताल में पोस्ट मार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। मृतक के परिजनों ने आशीष की हत्या का आरोप गांव के ही सरपंच व उसके साथियों पर लगाया है। पुलिस ने सरपंच सहित 3 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

  • sonipat ciivil hospital ashish goli kand
    । इस मामले में सरपंच सहित तीन पर मामला दर्ज कर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सोनीपत के सिविल अस्पताल भेज दिया।

सरपंच के खिलाफ आरटीआई लगाना पड़ा महंगा

मृतक के चचेरे भाई आकाश ने बताया कि उनके परिवार ने सरपंच रामनिवास के खिलाफ आरटीआई लगाने वालों का साथ दिया था। इसी के चलते सरपंच नाराज था और तभी से वह रंजिश रखे हुए था। वह बार-बार देख लेने की धमकी भी देता था। पुलिस ने फरार सरपंच व उसके साथियो की तलाश शुरू कर दी है।

स्विफ्ट कार से आए थे हमलावर

हमलावर स्विफ्ट कार से (swift car) से आए थे। घटना को अंजाम देने के बाद वे उसी से फरार हो गए। इस बारे में थाना प्रभारी खरखौदा वजीर सिंह ने बताया कि आशीष पर गोलियों से तीन बार हमला किया गया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। आरोपी फरार हैं। मृतक के परिजनों की शिकायत पर गांव के सरपंच रामनिवास सहित तीन अन्य पर हत्या का मामला दर्ज किया है। सभी आरोपी व सरपंच फरार हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।

घर में इकलौता था आशीष

बताया जाता है की आशीष अपने घर में इकलौता बेटा था। घटना से परिवार में मातम पसरा है। गांव में भी सरपंच द्वारा हत्या कराए जाने से भय का माहौल है। बताया जाता है कि सरपंच ने इससे पहले भी आरटीआई लगाने वाले ग्रामीणों पर हमला किया था। इसके अलावा सरपंच पर अब तक अलग-अलग मामलों में करीब आठ केस दर्ज हैं।


by

 

कविता (सोनीपत प्रतिनिधि)
सिटी तहलका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *