उम्मीद संस्था ने पानीपत के गरीब बच्चों में जगाई साक्षरता की उम्मीद।। 7 राज्यों के बाद हरियाणा के पानीपत में शुरू किया अभियान

काॅलेजों के करीब 20 स्टूडेंट्स ने पढ़ाया। अभियान के तहत हर रविवार को 2 घंटे यानी सुबह 10 से 12 बजे तक बच्चों को पढ़ाया जाएगा।
पानीपत विशेष स्टोरी

देश के 7 राज्यों में गरीबों के लिए विभिन्न प्रोजेक्ट चलाने वाली सामजसेवी संस्था उम्मीद (ummed) ने हरियाणा में भी अपना अभियान शुरू कर दिया है। संस्था ने हरियाणा के पानीपत (panipat) से अभियान की शुरूआत की है। संस्था अपने अभियान के तहत 4 प्रोजेक्ट चला रही है। इनमें नाॅलेज फाॅर आॅल, परिधान, गरीब बच्चों के लिए शिक्षा और सरकार की योजनाओं का प्रचार शामिल हैं। संस्था ने पानीपत के सेक्टर 25 स्थित स्वास्थ्य केंद्र के सहयोग से रविवार को पहले कार्यक्रम के तहत हनुमान चौक स्थित झुग्गी-झोपड़ियों के करीब 28 बच्चों को शिक्षित करने का कार्य शुरू किया। इन बच्चों को पानीपत के कालेजों के विद्यार्थी पढ़ाएंगे। हर रविवार को इन बच्चों को पढ़ाया जाएगा। यह जानकारी संस्था के प्रोजेक्ट मैनेजर अंश जैन ने दी। उन्होंने बताया कि संस्था ने पहली बार अपने प्रोजेक्ट की शुरुआत दिल्ली (delhi) में 2012 में की थी।

हर रविवार दो घंटे तक पढ़ाया जाएगा बच्चों को

संस्था के पानीपत के प्रोजेक्ट मैनेजर अंश जैन की मानें तो हरियाणा (haryana) में अभियान की शुरूआत 24 जून रविवार से की गई है। सेक्टर 25 स्थित सरकारी स्वास्थ्य केंद्र के मेडिकल आॅफिसर डाॅ. अमित से इस बारे में बात हुई थी। उनके सहयोग से बच्चों को पढ़ाने के लिए जगह उपलब्ध कराई गई है। पहले दिन सेक्टर 25 स्थित हनुमान चौक (hanuman chok) पर मौजूद झुग्गी-झोपड़ियों के करीब 28 बच्चों को पानीपत के ही काॅलेजों के करीब 20 स्टूडेंट्स ने पढ़ाया। अभियान के तहत हर रविवार को 2 घंटे यानी सुबह 10 से 12 बजे तक बच्चों को पढ़ाया जाएगा।

  • देश के 7 राज्यों में गरीबों के लिए विभिन्न प्रोजेक्ट चलाने वाली सामजसेवी संस्था उम्मीद (ummed) ने हरियाणा में भी अपना अभियान शुरू कर दिया है।
    देश के 7 राज्यों में गरीबों के लिए विभिन्न प्रोजेक्ट चलाने वाली सामजसेवी संस्था उम्मीद (ummed) ने हरियाणा में भी अपना अभियान शुरू कर दिया है।

गरीबों के लिए काम करना संस्था का मकसद

अंश जैन ने सिटी तहलका को बताया कि संस्था हमेशा समाजसेवा के कार्यों में आगे रहती है। उसका मकसद गरीबों का स्तर उठाने के लिए हर संभव प्रयास करना है। अभी तक संस्था दिल्ली, छत्तीसगढ़, झारखंड, बिहार, राजस्थान, उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश में अपना अभियान चला रही है। 24 जून से संस्था ने हरियाणा में भी यह कार्यक्रम शुरू किया है। इसके लिए पहले पानीपत को चुना है। उनका कहना है गरीब बच्चों को पढ़ाने से जहां विद्यार्थियों को एक प्लेटफार्म (plateform)  मिलेगा, वहीं गरीब बच्चे भी साक्षर हो सकेंगे। इससे समाज में एक अलग संदेश भी पहुंचेगा।


by
अजय राजपूत
सिटी तहलका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *