एफआईआर दर्ज होने पर आरएमपी डॉक्टरों का प्रदर्शन।। विधायक रविंद्र मछरौली भी समर्थन में कूदे 

पानीपत विशेष स्टोरी

 

पानीपत, 23 जुलाई। 
 

पानीपत में समालखा के देहरा गांव के आरएमपी डाॅक्टर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इसकी शिकयत स्वास्थ्य विभाग की ओर से की गई थी। इससे नाराज होकर सैकड़ों आरएमपी डॉक्टरों ने सचिवालय में प्रदर्शन किया। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के जिला चीफ मेडिकल आफिसर  संतलाल वर्मा के खिलाफ नारेबाजी कर सरकार से उन्हें तत्काल प्रभाव से हटाए जाने की मांग की। उधर, सीएमओ को हटाने की मांग के लिए समालखा हलके के विधायक रविंद्र मछरौली भी अब खुलकर आरएमपी डॉक्टरों के समर्थन में उतर आए हैं।

विधायक ने लगाए सीएमओ पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने के आरोप 

देहरा गांव में आरएमपी डॉक्टर पर हुई कार्रवाई के मद्देनर सामलखा हलके के विधायक रविंद्र मछरौली ने सीएमओ संतलाल वर्मा पर भ्रष्टाचार होने के आरोप लगाए हैं। उनका कहना है कि सीएमओ संतलाल वर्मा आरएमपी डॉक्टरों के जरिये पैसे उगाही करना चाहते हैं। जब उन्होंने इसके लिए मना कर दिया तो संतलाल वर्मा ने उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी। सीएमओ जान-बूझकर रोजाना आरएमपी डॉक्टरों पर जबरन कार्रवाई कर रहे हैं।

ये है मामला 

बता दें कि गत दिनों स्वास्थ्य विभाग द्वारा देहरा गांव में एक आरएमपी डॉक्टर पर कार्रवाई की गई थी। उस समय आरोप समालखा हलके के विधायक रविंद्र मछरौली पर भी लगे थे। रविंद्र मछरौली पर आरोप थे कि आरएमपी डॉक्टरों ने देहरा में विधायक की शह पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मोबाइल से ग्रुप डिलीट कर दिए थे। जिसके जवाब में विधायक रविंद्र मछरौली ने इसका साफ तौर से खंडन किया था। उनका कहना था कि ऐसा कुछ भी नहीं है बल्कि वे तो खुद सीएमओ की कार्यशैली से गुस्साए हुए थे। अब उनका आरोप है कि स्वास्थ्य विभाग लंबे समय से ही प्राइवेट डॉक्टरों और आरएमपी डॉक्टरों को परेशान करते आ रहे हैं। सीएमओ संतलाल वर्मा से नाराज विधायक ने यहां तक कहा कि वह जल्द ही इस मामले को लेकर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मिलेंगे।


By
प्रदीप रेढ़ू
सिटी तहलका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *