इनेलो बंद का नहीं दिखा खास असर || बारह बजे तक सारा बाजार खुला |

पानीपत राजनीति विशेष स्टोरी सामाजिक

8  सितम्बर ,पानीपत।

 

प्रदेश व केन्द्र सरकार की कथित जनविराधी नीतियों के खिलाफ इनेलो-बसपा द्वारा बुलाए गए हरियाणा बंद का समालखा शहर में कुछ खास असर देखने को नहीं मिला। सुबह इनेलो के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने रेलवे रोड पर दुकानें बंद करवाई लेकिन कुछ समय बाद ही लोगों ने अपनी दुकानें खोलनी शुरू कर दी। जबकि गुलाटी रोड पर अधिकांश दुकानें खुली रही और दोपहर करीब बारह बजे तक सारा बाजार खुल गया।

उल्लेखनीय है कि बीजेपी सरकार की कथित जनविरोधी नीतियों को लेकर इनेलो-बसपा गठबंधन द्वारा बंद का आह्वान किया गया था। इसको लेकर एक दिन पहले भी इनेलो नेताओं ने शहर के बाजार में दुकान-दुकान जाकर लोगों से बंद में शामिल होने का आह्वान किया था। लेकिन शनिवार सुबह लोगों ने दुकानें खोली तो इनेलो नेताओं व कार्यकर्ताओं ने उनसे सहयोग करने की अपील की। इसके बाद कुछ ने अपनी दुकानें बंद कर दी जबकि कुछ आधा शटर खोलकर ही सामान बेचते हुए नजर आए।

लेखराज खट्टर ने कहा कि…

प्रदेश सरकार ने जनता को झूठे वायदे कर ठगने का काम किया है। जीएसटी के चलते छोटे दुकानदारों व व्यापारियों के काम धंधे चौपट हो गए हैं तथा महंगाई बढ़ रही है। पैट्रोल-डीजल, रसोई गैस के दाम प्रतिदिन बढ़ रहे हैं, जबकि रूपया अपने सबसे न्यूनतम स्तर पर पहुंच चुका है। इसके बावजूद भी सरकार कुंभकर्णी नींद सोई हुई है। युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहे और वह शिक्षित होने के बावजूद भी धक्के खाने को मजबूर हैं। प्रदेश में कानून व्यवस्था की हालत दिनोंदिन बिगड़ती जा रही है। महिलाओं के शोषण व उत्पीडऩ के मामले बढ़ रहे हैं। लेकिन इसके बावजूद भी सरकार आंख मूंद कर बैठी है। लेखराज खट्टर ने कहा कि केन्द्र सरकार के नोटबंदी के फैसले के बाद अब तक जनता के हालात ठीक नहीं हो सके और उसके कारण लाखों लोगों के रोजगार छिन गए। इनेलो-बसपा का यह बंद केन्द्र व प्रदेश सरकार की इन्हीं नीतियों के विरोध में हैं और प्रदेश की जनता उनके साथ है।

 


by

नवीन कुमार

सिटी तहलका

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *