डीसी पहुंची यमुना तट पर, दिए  निर्देश, बाढ़ रोकने के पुख्ता इंतजाम करें अफसर

sujan singh, sdm, samalkha, gourav, dr. sanjay kumar, dro, rajkumar, iatthargarh, tamsabaad,
पानीपत विशेष स्टोरी

डीसी सुमेधा कटारिया ने बाढ़ के समय प्रशासनिक तंत्र को मजबूती प्रदान करने के लिए वीरवार को विभिन्न प्रशासनिक व अन्य अधिकारियों के साथ पानीपत स्थित  यमुना तट से लगते गावों का दौरा कर बाढ प्रबंधन बारे ठोकरों का कार्य और मरम्मत की स्थिति का लेकर संबधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस मौके पर उनके साथ एडीसी सुजान सिंह यादव, एसडीएम समालखा गौरव कुमार, नगराधीश डॉ, सजंय कुमार, डीआरओ राजकुमार के अलावा विभिन्न विभागों केे अधिकारी भी मौजूद थे।

sujan singh, sdm, samalkha, gourav, dr. sanjay kumar, dro, rajkumar, iatthargarh, tamsabaad,

उपायुक्त अपने यमुना दौरे पर सबसे पहले गांव पत्थरगढ़ और तामशाबाद पंहुची और वहां पर ग्रामीणों के साथ बातचीत की और अधिकारियों से ग्रामीणों द्वारा बताई जाने वाली बातों के दृष्टिगत ठोकरों के बारे में बात की। उन्होंने वहां पत्थरों से बनाई जा रही ठोकरों के कार्य को मौके पर जाकर देखा। सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता ने उपायुक्त सुमेधा कटारिया को बताया कि जब ताजेवाला हैड से पानी यमुना में छोड़ा जाता है तो उसे यहां पंहुचने में दो दिन का समय लगता है। उससे पहले सभी इंतजाम कर लिए जाते हैं। उन्होंने बताया कि लगभग 50 हजार मिट्टी के कट्टे भरकर तैयार रखें जाते हैं। इसके साथ-साथ जरूरत पडऩे पर अन्य कट्टभी तैयार करवा दिए जाते हैं।

sujan singh, sdm, samalkha, gourav, dr. sanjay kumar, dro, rajkumar, iatthargarh, tamsabaad,

डीसी सुमेधा कटारिया ने यमुना से लगते     बांध का जायजा लिया और वे सनौली पुल पर भी गई। उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को कहा कि समय रहते सभी तैयारियां पूरी कर ली जाए। सभी सरपंचों व गांव के मौजिज लोगों के सम्पर्क नम्बर साथ रखें। उपायुक्त ने गांव रमाल व डाढौला में ड्रेन नम्बर एक व दो की स्थिति का भी जायजा लिया। उन्होंने जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे ड्रेन नम्बर एक व दो के पानी के सैम्पल लेकर इसमें अमोनिया इत्यादि की मात्रा चैक करवाकर रिपोर्ट तैयार करके दें।


by
सिटी तहलका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *