जीवन से मुल्यवान कोई वस्तु नही है : योगेन्द्र सिंह नेहरा

पानीपत म्हारा हरियाणा विशेष स्टोरी सामाजिक

पुलिस महानिरीक्षक करनाल मंडल करनाल योगेन्द्र सिंह नेहरा ने संबोधित करते हुए कहा कि जीवन से मुल्यवान कोई वस्तु नही है।
पानीपत(प्रदीप कटारिया) गति की अति ने सड़को पर इतनी क्षति पहुचाई की सड़के लाल हो गई, मानव व पशु के खुन से। हम सब ने अपने-आप को सड़क पर चलते हुए खुद असुरक्षित बनाया है और यही कारण है कि हम सब सड़क पर चलते वक्त यमराज के साये मे रहते है। यह बात पुलिस महानिरीक्षक करनाल मंडल करनाल श्री योगेन्द्र सिंह नेहरा (आईपीएस) ने एस.डी कॉलेज के बाहर जीटी रोड़ किनारे आयोजित कार्यक्रम “ट्रैफिक चौपाल” मे बतौर मुख्यअतिथि बोलते हुए कही। संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट 2019 के तहत सड़क सुरक्षा मानदंडो और उनकी अनुपालना को बढावा देने के लिए जिला पुलिस विभाग द्वारा आज एस.डी कॉलेज के बाहर जीटी रोड़ पर ट्रैफिक चौपाल कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमे पुलिस महानिरीक्षक करनाल मंडल करनाल योगेन्द्र सिंह नेहरा ने मुख्य अतिथि व पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार ने विशिष्ट अतिथि के रूप मे शिरकत करते हुए आमजन को यातायात के नियमों बारे जानकारी देकर जागरूक किया। पुलिस महानिरीक्षक योगेन्द्र सिंह नेहरा व पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार ने बिना हेलमेट पहने दो पहियां वाहन चालको को हेलमेट वितरित करने के साथ ही गुलाब का फूल देकर भविष्य मे यातायात के सभी नियमो की पालना करने बारे भी प्रेरित किया।
पुलिस महानिरीक्षक करनाल मंडल करनाल योगेन्द्र सिंह नेहरा ने संबोधित करते हुए कहा कि जीवन से मुल्यवान कोई वस्तु नही है। गति की अति ने सड़को पर इतनी क्षति पहुचाई की सड़के लाल हो गई, मानव व पशु के खुन से। हम सब ने अपने-आप को सड़क पर चलते हुए खुद असुरक्षित बनाया है और यही कारण है कि हम सब सड़क पर चलते वक्त यमराज के साये में रहते हैं। उन्होने कहा की यदि वाहन चलाते समय यातायात के नियमों का पालन करेगें तो निश्चित ही हमे कोई परेशानी नही होगी। रोड़ ऐक्सीडेंट के अधिकांश हादसे नियमों की अनदेखी से होते है। इसलिए स्वयं भी नियमों का पलान करें व दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित कर सड़क सुरक्षा मे साथ दे।

उन्होंने कहा कि हम सब देश के प्रति अपना धर्म निभाए और यातायात व्यवस्था को सुदृढ बनाना भी देशभक्ति ही है। एक अच्छे नागरिक के रूप में हमारा यह कर्तव्य बनता है कि हम अपनी जान के साथ-साथ दूसरों की जान को जोखिम में न डालें। कानून का लाभ तभी होगा जब सभी लोग इसकी पालना करेगें इसलिए वाहन चलाते समय यातायात के सभी नियमों का पालन करें। दो पहियां वाहन चलाते सयम हैल्मेट का प्रयोग करे, दो पहियां वाहन पर ट्रिपल राइडिंग ना करे, चार पहियां या हेवी वाहन चलते समय सीट बैल्ट का प्रयोग करे, रॉग साईड वाहन न चलाए, नशा करके वाहन न चलाए,अंडर ऐज वाहन न चलाए, बगैर लाईसैंस वाहन न चलाए, वाहनों मे प्रैशर होर्न का प्रयोग ना करें इत्यादी ट्रैफिक के सभी नियमों की पालना करें।
पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार ने पहले बोलते हुए बताया कि सड़क दुर्घटनाओं मे होने वाले जानमाल के नुकसान को रोकने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा हाल ही मोटर व्हीक्ल एक्ट में संशोधन किया गया। जिसमें कई प्रावधान नए जोड़े गए है। यातायात नियमों की अवहेलना करने पर लगने वाले जुर्माने की राशि में भी बढ़ोतरी की गई है। संशोधित मोटर व्हीकल अधिनियम 01 सितंबर 2019 से पूरे हरियाणा में लागू हो चुका है। नए नियमों तथा नए प्रावधानों की पालना के संबंध मे वाहन चालकों को जागरूक व प्रेरित करने की आवश्यकता है। इसी उद्देश्य से पानीपत पुलिस द्वारा विशेष जागरूकता अभियान चलाया गया है। 15सितंबर तक चलने वाले इस विशेष अभियान के तहत पानीपत पुलिस यातायात नियमों की अवेहलना करने वाले वाहन चालकों के चालान काटने की बजाय उनको नियमों बारे जागरूक कर रही है। वही जागरूकता के साथ-साथ भविष्य में यातायात नियमों की पालना करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। अभियान का उद्देश्य आमजन को सड़क सुरक्षा नियमों बारे शिक्षित,प्रोत्साहित व जागरूक करना है। उन्होने बताया की पुलिस का मकसद किसी का चालान कर जुर्माना इक्कठा करना नही है। पुलिस का मकसद लोगो की सुरक्षा करना है। ताकि आमजन सुरक्षित सफर कर सके।
पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार ने बताया की जिन विभागों पर इस कानून को लागू करने की जिम्मेवारी है अगर उन विभागों का काई भी कर्मचारी किसी भी कानून की उल्लंघना करता है तो उनके उपर जूर्माने की राशि दो गुना होगी।
वही कार्यक्रम मे विशेष नाटक का मंचन कर यमराज व चित्रगुप्त की वेशभूषा मे कलाकारों के माध्यम से दर्शाया गया ही यातायात नियमों की अवहेलना से रोड़ ऐक्सीडेंट के हादसों मे कितने लोगो की जान जा रही है। उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय/यातायात सतीश कुमार वत्स ने मंच संचालन किया उन्होने सड़क दुर्घटना के आकड़े प्रस्तुत किये जो हम सभी के लिए चोकाने वाले थे। उन्होने जानकारी देते हुए बताया की प्रतिवर्ष देश मे 1 लाख 50 हजार से उपर लोगों की सड़क दुर्घटनाओं मे जांन चली जाती है। और करीब 4 लाख50 हजार व्यक्ति गंभीर रूप से घायल होकर अपंग हो जाते है। सड़क हादसो से बचने के लिए यातायात नियमो के प्रति जागरूक होकर पालना करना ही सबसे बड़ा हथियार हे। इसलिए सभी वाहन चालक ट्रैफिक नियमो के प्रति खुद जागरूक होकर अपने घर परिवार रिश्तेदार सगे सबंधियो जान पहचान वालो को भी जागरूक कर ट्रैफिक नियमो की पालना करवाएं जिससें रोड़ ऐक्सीडेंट के इन हादसो पर अंकुश लगाया जा सके। इस अवसर पर उप पुलिस अधीक्षक समालखा प्रदीप कुमार, बाबरपुर ट्रैफिक थाना प्रभारी इंस्पेक्टर विक्रांत, थाना शहर प्रभारी इंस्पेक्टर मोहन लाल,गणमान्य व्यक्ति, पानीपत सड़क सुरक्षा संगठन की टीम,विभिन्न संगठनों के पदाधिकारी व टेक्सी स्टेंड के ड्राईवर मौजूद रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *