मेयर का एक्‍शन प्‍लान, निगम में कमीशन खाने वालों का होगा पर्दाफाश

पानीपत म्हारा हरियाणा राजनीति

 

मेयर का एक्‍शन प्‍लान, निगम में कमीशन खाने वालों का होगा पर्दाफाश

 

पीडब्ल्यूडी की तरह अब नगर निगम के विकास कार्याें के निर्माणस्थल पर भी पारदर्शिता बोर्ड लगेगा। इसमें कार्य करने वाली कंपनी का नाम, काम की लागत राशि और पूरा होने की अवधि अंकित होगी। साथ ही नगर निगम से कमीशनखोरी पूरी तरह खत्म की जाएगी। ऐसे कई महत्वपूर्ण निर्णय मेयर अवनीत कौर ने ठेकेदारों की बैठक में लिये। इसमें ठेकेदारों को चेताया गया कि पार्षद से लेकर सांसद तक या कोई अधिकारी कमीशन मांगता है तो वे इसका पर्दाफाश करें। यदि काम में खामी मिली तो ठेकेदार को बख्शा नहीं जाएगा।

मेयर अवनीत कौर पालिका बाजार स्थित अपने कार्यालय में ठेकेदारों की बैठक ली। उन्होंने कहा का उद्घाटन बोर्ड से भ्रष्टाचार शुरू होता है। बोर्ड के पैसे ठेकेदार देता है। आगे से बोर्ड लगने बंद हो जाएंगे। जिस गली नाली का निर्माण होगा वहां पारदर्शिता का बोर्ड लगाना होगा। उस पर वर्क ऑर्डर की डिटेल कौन ठेकेदार काम कर रहा है। संपर्क नंबर प्रकाशित किए जाएंगे।

क्वालिटी पर जोर दिया जाए

मेयर ने कहा कि नगर निगम को भ्रष्टाचार मुक्त बनाना है। जो बेईमान अधिकारी बचे हैं उन्हें भी बदला जाएगा। क्वालिटी पर जोर होगा। ऐसी सड़कें नहीं बनने देंगे जो बार-बार टूटती हैं। सड़क की अवधि निर्धारित होगी। पांच साल कम से कम सड़क चलनी चाहिए। ठीक सड़कें दोबारा न बनें मेयर ने कहा कि शहर में जो सड़क ठीक हैं वे दोबारा नहीं बननी चाहिए। टूटी और खराब सड़क ही बनाई जाए।

चुनाव से पहले 100 करोड़ के टेंडर

जिन ठेकेदारों ने लिये हैं, वे पहले सड़क देखें यदि ठीक है तो उसे दोबारा न बनाया जाए। जनता भी नगर निगम का सहयोग करे। ऐसी कोई भी सड़क बनती मिले तो संज्ञान में लाएं। उसकी भरपाई ठेकेदार से होगी।

पहले सड़क के नीचे के काम होंगे

नगर निगम अब सड़क बनाने से पहले सीवरेज, पानी की पाइप लाइन आदि का काम पूरा करेगा। उसके बाद सड़क बनाई जाएगी। सड़क पहले बनाकर सीवर, पानी की पाइप लाइन बिछाने के लिए तोड़ दी जाती है ऐसे अब नहीं होने दिया जाएगा। इससे सरकारी पैसे का दुरुपयोग होता है।

15 फीसद कम में ठेका लेकर 15-15 फीसद कमीशन

नगर निगम में ठेकेदार 15 फीसद कम पर ठेका लेते हैं। 15-15 फीसद कमीशन देते रहे हैं। ऐसे में विकास कार्यों में क्या क्वालिटी आएगी? इसका अनुमान लगाया जा सकता है। मेयर अवनीत कौर ने कहा कि अब यह व्यवस्था नहीं चलेगी। हमें ईमानदारी से काम करना है। यही हमारा लक्ष्य है। शहर को पता लगना चाहिए नगर निगम ईमानदारी से काम करता है।

 

 

विधायक का हस्तक्षेप बंद

नगर निगम में अब विधायक हस्तक्षेप नहीं करेंगे। मेयर ने बताया कि पानीपत ग्रामीण विधायक महीपाल ढांडा पहले भी हस्तक्षेप नहीं करते थे, शहरी विधायक प्रमोद विज भी हस्तक्षेप नहीं करेंगे। वे हमारा सहयोग करेंगे।

2.5 करोड़ की स्ट्रीट लाइट के टेंडर रद

2.5 करोड़ के स्ट्रीट लाइट के टेंडर रद कर दिए गए हैं। अब बिजली की बड़ी कंपनियों ने निगम स्वयं स्ट्रीट लाइट खरीदेगा। ज्यादा मात्रा में खरीद पर निगम को छूट मिलेगी। लाइट की पट्टी अलग-अलग कलर की होगी। आसानी से पता लगेगा किस माह में किस कंपनी की लाइट लगी। जिससे ठीक करवाने में आसानी रहेगी।

मेयर अवनीत कौर से सीधी बातचीत

प्रश्न : क्या ईमानदारी के पाठ पढ़ाने से ठेकेदार मान जाएंगे?

उत्तर : स्पष्ट कर दिया गया है, हमें क्वालिटी चाहिए, कमीशन नहीं। बदलाव के लिए सोच बदलना जरूरी है।

प्रश्न : नगर निगम में भ्रष्ट अधिकारी हैं, हाल ही में सीएम विंडो पर पूर्व मेयर भूपेंद्र सिंह ने शिकायत दी है? उत्तर : निगम में भ्रष्ट अधिकारियों को नहीं रहने दिया जाएगा, इसके लिए अगली बैठक अधिकारियों की ली जाएगी।

गोशाला के लिए दान

पूर्व मेयर भूपेंद्र सिंह ने ठेकेदारों से आग्रह किया कि शहर में बेसहारा पशु है। गाय की सेवा के लिए आप सहयोग दें साथ ही लोगों को प्रेरित करें। ठेकेदारों ने सवा लाख रुपये दिए। जिसको नैन गोशाला के विकास के लिए दिया जाएगा। इससे शहर को बेसहारा पशुओं से मुक्त बनाने में सहयोग मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *