लोकतंत्र के पर्व में पानीपत की दमदार भूमिका, रिकॉर्ड तोड़ हुआ था मतदान

पानीपत म्हारा हरियाणा राजनीति

 

लोकतंत्र के पर्व में पानीपत की दमदार भूमिका, रिकॉर्ड तोड़ हुआ था मतदान

 

अपने हरियाणा में नई सरकार के गठन के लिए सोमवार को मतदान होना है। यह यज्ञ तब तक पूरा नहीं होगा, जब तक हर एक मतदाता की आहुति ना डल जाए। वैसे भी पानीपत सरकार के गठन में अब तक अपनी दमदार भूमिका निभाता रहा है, लेकिन इस बार हमारे पास मौका है सूबे में अव्वल आने का। गत विधानसभा चुनाव में तीन चौथाई से भी अधिक वोट डले थे, इस बार चुनौती न सिर्फ उसे हासिल करने की ही नहीं, बल्कि एक बड़ी लकीर भी खींचनी है। दैनिक जागरण उच्चतम मतदान और सबसे कम मतदान करने वाले बूथों पर पहुंचा। यहीं से मतदाताओं में एक नया जोश भरने का प्रयास भी किया।

2014 के विधानसभा चुनाव के मतदान पर नजर डालें तो जिले में यह 75.62 प्रतिशत रहा था। समालखा विधानसभा 81.89 प्रतिशत मतदान के साथ जिले की चारों विधानसभाओं में नंबर वन पर रहा। इसराना 77.21 के साथ दूसरे, ग्रामीण 76.09 प्रतिशत वोटों के साथ तीसरे और पानीपत शहर में 68.09 प्रतिशत मतदान हुआ था। लोकसभा 2019 के चुनाव में यह मतदान 69.17 प्रतिशत आ गया था।

2014 के विस चुनाव में इन बूथों पर रिकॉर्ड मतदान

पानीपत ग्रामीण विधानसभा
केंद्र का नाम प्रतिशत
एससी चौपाल चंदौली 93.68
राजकीय सीसे स्कूल काबड़ी 91.76
राजकीय सीसे स्कूल चंदौली 89.52
राजकीय उच्च विद्यालय गढ़ सरनाई 88.65
राजकीय प्राइमरी स्कूल कचरौली 88.17
पानीपत शहरी विधानसभा
केंद्र का नाम प्रतिशत
हिमालयन पब्लिक स्कूल कुटानी रोड चुंगी 84.64
राजकीय उच्च विद्यालय कैनाल कैंप 83.60
राजकीय सीसे स्कूल कैनाल कैंप 80.41
आइबी सीसे स्कूल 79.66
आइबी सीसे स्कूल के मिडिल रो 79.55
इसराना आरक्षित
केंद्र का नाम प्रतिशत
एससी चौपाल सुताना 88.80
एससी चौपाल कालखा 86.77
एससी चौपाल भंडारी 87.34
राजकीय मिडिल स्कूल भालसी 87.40
एससी चौपाल पूठर 86.65
समालखा विधानसभा
केंद्र का नाम प्रतिशत
एससी चौपाल मच्छरौली 93.17
राजकीय प्राइमरी स्कूल गढ़ी भल्लौर 93.03
राजकीय सीसे स्कूल डाडोला 92.70
एससी चौपाल नारायणा 92.62
राजकीय सीसे स्कूल मच्छरौली 91.49
चुनाव में अधिक मतदान के लिए मतदाताओं को जागरूक कर रहे हैं। मतदाता जागरूक होकर आगे आ रहे हैं। कॉलेज छात्रओं ने जागरूकता रैली भी निकाली हैं। इस बार मतदान प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद है।

शिवकुमार गर्ग, उप प्रधान, वैश्य कन्या महाविद्यालय, समालखा।

गांव में रिफाइनरी टाउनशिप के वोटर भी लगते हैं। यहां के अधिकारियों व कर्मचारियों के तबादले हो जाते हैं। वे कई बार अपना वोट नहीं कटवाते। ऐसे में मतदान प्रतिशत कम रह जाता है। ग्रामीण मतदाता 80 से 85 प्रतिशत मतदान करते हैं। गांव और टाउनशिप में रविवार को मतदाता जागरूक शिविर लगाया जाएगा।

2014 के विस चुनाव में इन बूथों पर हुआ सबसे कम मतदान

पानीपत ग्रामीण विधानसभा
केंद्र का नाम प्रतिशत
राजकीय सीसे ददलाना बाईं तरफ 46.69
राजकीय उच्च विद्यालय नांगल खेड़ी बाईं साइड 49.02
राजकीय उच्च विद्यालय मिडिल रूम खेड़ी नांगल 56.11
राजकीय सीसे स्कूल ददलाना मिडिल 56.61

 

 

राजकीय प्राइमरी स्कूल खेड़ी नांगल 59.12
पानीपत शहरी विधानसभा
केंद्र का नाम प्रतिशत
आर्य सीसे स्कूल नजदीक ऑफिस ब्लॉक 42.48
सेंट्रल स्कूल एनएफएल कॉलोनी 47.87
सेंट्रल स्कूल एनएफएल 53.68
आर्य सीसे स्कूल ऑफिस ब्लॉक 54.96
किंडर किन पब्लिक स्कूल कमालिया भवन 57.11
इसराना आरक्षित
केंद्र का नाम प्रतिशत
पीटीपीएस सीसे स्कूल थर्मल कॉलोनी 47.86
डीएवी पब्लिक स्कूल थर्मल कॉलोनी 50.14
डीएवी पब्लिक स्कूल थर्मल कॉलोनी 60.73
राजकीय सीसे स्कूल सींक 67.58
राजकीय सीसे स्कूल मिडिल मतलौडा 68.11
समालखा विधानसभा
केंद्र का नाम प्रतिशत
वैश्य सीसे स्कूल समालखा 66.13
वैश्य गल्र्स सीसे स्कूल समालखा मिडिल रो 67.54
वैश्य गल्र्स सीसे स्कूल समालखा 69.07
राजकीय सीसे स्कूल समालखा 69.58
पीडब्ल्यूडी बीएंडआर कार्यालय 70.19
एससी चौपाल दक्षिण कमरे ऊंझा 70.19
जिला निर्वाचन कार्यालय की तरफ से मतदाताओं को जागरूक करने के लिए रथ रवाना किए गए थे। नुक्कड़ नाटकों का मंचन कर जागरूक किया है। इस बार मतदान प्रतिशत ऊपर लेकर जाने का प्रयास है।

अजरुन भटेजा, तहसीलदार चुनाव, रिटायर्ड

थर्मल में एक समय में 3500 कर्मचारी होते थे। अब 950 रह गए हैं। इनमें से कुछ सेवानिवृत होकर अपने पैतृक शहर व गांवों में चले गए हैं। कुछ अधिकारियों व कर्मचारियों की चुनाव में ड्यूटी लग जाती है। यहां पर मतदान करने का प्रयास रहता है। थर्मल प्रशासन और एसोसिएशन गत कई दिनों से मतदाताओं को जागरूक कर रहे हैं।

ओपी खर्ब, चेयरमैन एचपीजीसी डिप्लोमा इंजीनियरिंग एसो. थर्मल।

मतदान करना हर व्यक्ति का कर्तव्य है। वार्ड में विशेष मुनादी कराकर लोगों को मतदान के लिए जागरूक किया जाएगा। बुजुर्ग व अशक्त मतदाताओं को मतदान केंद्र पर लाने और ले जाने की सुविधा कराई जाएगी। केंद्रों पर बेहतर सुविधा कराई जाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *