जिस शहर में बेटी मेयर वहीं जनता के लिए पूर्व मेयर ने खोला मोर्चा, धरने पर बैठे

पानीपत म्हारा हरियाणा राजनीति

 

जिस शहर में बेटी मेयर वहीं जनता के लिए पूर्व मेयर ने खोला मोर्चा, धरने पर बैठे

 

जेबीएम कंपनी की ओर से सेक्टर 25 में कूड़ा डंपिंग स्थल के विरोध में पूर्व मेयर भूपेंद्र सिंह भी उतर आए। इससे पहले उद्यमियों ने भी इसका विरोध जताया था। बुधवार को पूर्व मेयर सहयोगियों के साथ डंपिंग स्थल के सामने धरने पर बैठ गए।

पूर्व मेयर ने कहा कि सेक्टर 11-12, 24 और 25 के लोगों को बदबू से परेशान होना पड़ रहा है। डंपिंग स्थल के सामने छह करोड़ का लागत से पार्क बने हैं, लेकिन बदबू के कारण लोग यहां घूमना पसंद नहीं करते। बार-बार जेबीएम कंपनी के अधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है।

छह माह पहले हुआ ऑर्डर

सड़क नहीं बनी पूर्व मेयर ने बताया कि मित्तल मेगा मॉल के सामने वाली सड़क का वर्क ऑर्डर चुनाव से पहले हो चुका है। बावजूद इसके सड़क निर्माण शुरू नहीं हो सका। हजारों लोग यहां से आते-जाते हैं।

टिन से कवर होगा डंपिंग स्थल

 

 

धरने की सूचना मिलते ही जेबीएम कंपनी के इंचार्ज अ¨तद्र ¨सह मौके पर पहुंचे। उन्होंने धरना समाप्त करने का आग्रह किया। पूर्व मेयर ने कहा कि यहां काम शुरू करो। डंपिंग स्थल को जब तक कवर नहीं करोगे, धरना जारी रहेगा। अंतिद्र कुमार ने कंपनी के उच्च अधिकारियों से बात कर आश्वासन दिया कि एक-दो दिन में यहां काम शुरू हो जाएगा। 20 दिनों में पूरे एरिया को कवर कर दिया जाएगा। आगे लोहे की टिन लगा दी जाएगी। इसके बाद पूर्व मेयर ने धरना समाप्त कर दिया। चुनाव से पहले तत्कालीन विधायक रोहिता रेवड़ी ने भी इस डंपिंग स्थल को शिफ्ट करने के लिए कहा था। इस डंपिंग स्थल में रिक्शा के माध्यम से शहर का कूड़ा डाला जाता है जो बाद में गाड़ियों में लोड कर निंबरी भेजा जाता है।

जीना हुआ हराम, हो रही नौटंकी

कूड़ा डंपिंग स्थल के पास बने मकान वासी शकुंतला ने बताया कि कूड़े के कारण उनका जीना हराम हो गया है। पूर्व मेयर भी नौटंकी कर रहे हैं। यदि धरना देना है तो सड़क के बीच बैठ जाएं। उनका पूरा परिवार भी सड़क पर बैठने के लिए तैयार है।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने भेजा नोटिस

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने भी खुले में डाले जा रहे कूड़ा से प्रदूषण फैलने पर नगर निगम को नोटिस दिया हुआ है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी संदीप ने बताया 40 स्थानों पर पड़े कूड़े की जीपीआरएस लोकेशन निगम को दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *