इधर गर्मी के तेवर तल्ख, उधर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के जोश से हरियाणा की सियासत गर्म

choutala gaav congress
म्हारा हरियाणा राजनीति विशेष स्टोरी

सिरसा के चौटाला से खबर है कि जेठ की तपती दोपहर यानि 45 डिग्री तापमान के बाद भी सड़क पर हजारों साइकिलों के काफिला लेकर चल रहे प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और सिरसा के पूर्व सांसद डा. अशोक तंवर ने एक बार फिर साबित कर दिया कि कार्यकर्ताओं को जोड़ने, जनता के लिए संघर्ष करने और जुझारूपन में उनका कोई सानी नहीं है। डबवाली विधानसभा के गांव चौटाला में वीरवार सुबह हरियाणा में अमन शांति, सामाजिक सद्भाव और भाजपा-इनेलो मुक्त हरियाणा के संकल्प के साथ छत्तीस बिरादरी के हजारों लोगों ने यज्ञ में आहूती डाल हरियाणा बचाओ-परिवर्तन लाओ साइकिल यात्रा का जोरदार आगाज किया।

chotala gaav congress leherचौटाला गांव से बड़ी संख्या में महिला-पुरुष अपने घरों से निकल कर तंवर की हौसला अफजाई के लिए आए। चौटाला के ग्रामीणों ने हरियाणा बचाओ-परिवर्तन लाओ साइकिल यात्रा की सफलता और तंवर को हरियाणा विजय का आशीर्वाद भी दिया। ग्रामीणों का कहना था कि चौटाला गांव की पहचान अब किसी के नाम से नहीं  है बल्कि अब यहां सिरसा में सांसद रहते हुए तंवर के काम की चर्चा होती है।

अखिल भारतीय कांग्रेस सेवा दल के मुख्य संगठक लालजी देसाई भी इस खास मौके के भागीदार बने। कार्यक्रम का शुभारम्भ करते हुए मुख्य अतिथि देसाई ने कहा कि राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने और जनविरोधी भाजपा को भगाने के लिए अशोक तंवर के नेतृत्व में हरियाणा कांग्रेस की यह यात्रा एक अश्वमेघ यज्ञ है। वहीं पूर्व उपप्रधानमंत्री स्व. देवी लाल के सुपुत्र एवं पूर्व मंत्री चौधरी रणजीत सिंह ने यह कह कर पार्टी कार्यकर्ताओं में जोश भर दिया कि अब आलाकमान का आदेश है कि कांग्रेस की हरियाणा में सरकार बनाओ और यह यात्रा तो अब प्रदेश की सभी दस लोकसभा सीट कांग्रेस को जिताने और प्रदेश में पार्टी की सरकार बनने के बाद रुकेगी। हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डा, अशोक तंवर न केवल सिरसा बल्कि इस समय हरियाणा की बड़ी उम्मीद बनकर उभरे हैं ।

जनसमूह ने पूरा माहौल एक बड़ी रैली में तब्दील कर दिया

हरियाणा बचाओ-परिवर्तन लाओ यात्रा साइकिल यात्रा के शुभारंभ पर उमड़े जनसमूह ने पूरा माहौल एक बड़ी रैली में तब्दील कर दिया। जनभागीदारी से उत्साहित डा. अशोक तंवर ने कहा कि आपसी भाईचारे और समरसता की मिसाल हरियाणा अगर आज जातिवाद और सामुदायिक रंजिशों का दंश झेल रहा है तो इसका कारण भाजपा और इनेलो की खतरनाक नीतियां हैं। हरियाणा के भाईचारे के लिए भाजपा-इनेलो दीमक की तरह हैं जो अपने राजनीतिक स्वार्थों की पूर्ति के लिए लगातार इसे भीतर से खोखला करने पर जुटी हैं। सत्ताधारी दल भाजपा जहां सभी जातियों को एक-दूसरे से लड़वा कर अंग्रेजों के फूट डालो, राज करो के सिद्धांत पर काम कर रही है, वहीं इनेलो ने हमेशा ही जातिवाद का सहारा लेकर राजनीति की है। लेकिन हरियाणा की जागरूक जनता इस बार इन विभाजनकारी ताकतों को इस बार धूल चटाएगी।

इनेलो व भाजपा सरकार के खिलाफ किए तीखे प्रहार 

डा. अशोक तंवर ने हरियाणा बचाओ, परिवर्तन लाओ साइकिल यात्रा के दूसरे चरण का आगाज़ करते हुए इनेलो व भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर तीखे प्रहार करते हुए तापमान के साथ-साथ राजनीतिक पारे में भी उछाल ला दिया है। दूसरे चरण की यात्रा के पहले दिन को समरसता दिवस का नाम देते हुए डा, अशोक तंवर का चौटाला गांव में वरिष्ठ नेता संजय हिटलर ने भी अभिनन्दन किया। उन्होंने कहा कि समरसता दिवस को सार्थक बनाने और समाज में एकता व भाईचारे का संदेश देने के उद्देश्य से साइकिल यात्रा के दूसरे चरण के शुभारंभ से पहले 36 बिरादरी की उपस्थिति कांग्रेस के लिए शुभ संकेत है।  इसके बाद वे खुद भी साइकिल यात्रा में शामिल हुए। पहले दिन आसाखेड़ा, अबूबशहर, सकताखेड़ा, शेरगढ़ होते हुए साइकिल यात्रा डबवाली पहुंची। यहां कुछ देर विश्राम के बाद डबवाली गांव, मांगेआना, हेबुआना, निलावली, पन्नीवाला रुलदू, पाना, पिपली, माखा, डेरा जगमालवाली, जगमालवाली गांव होते हुए कालांवाली में रात्रि विश्राम के लिए साइकिल यात्री रुके। जगह-जगह लोगों ने लस्सी-नींबू पानी-शरबत पिलाने व मौसमी फल खिलाकर कांग्रेस कार्यकर्ताओ के मनोबल को बढ़ाया।

जनाक्रोश के सामने फीका पड़ा मौसमी पारा

हरियाणा में जन आंदोलन का रूप ले चुकी कांग्रेस की यात्रा में शामिल होने पहुंचे कार्यकर्ताओं, नेताओं, समर्थकों व जनसाधारण का भाजपा सरकार के खिलाफ गुस्से के सामने आज मौसमी पारा फीका पड़ता नजर आया। साइकिल यात्रा के प्रतिभागियों का जोश और उत्साह देखते ही बनता था। चिलचिलाती धूप और गर्म लू के बावजूद भाजपा सरकार मुर्दाबाद, कांग्रेस व राहुल गांधी-अशोक तंवर-कांग्रेस पार्टी जिंदाबाद के नारों से पूरा चौटाला से लेकर कालांवाली तक सभी गांव गुंजायमान हो गए।


by
सिटी तहलका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *