Haryana में अब BJP-JJP सरकार, CM मनोहरलाल और डिप्‍टी CM दुष्‍यंत चौटाला ने शपथ ली

म्हारा हरियाणा राजनीति राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय

 

Haryana में अब BJP-JJP सरकार, CM मनोहरलाल और डिप्‍टी CM दुष्‍यंत चौटाला ने शपथ ली

 

 

हरियाणा में आज से नई BJP-JJP सरकार us सत्‍ता संभाल ली है। राजभवन में नई सरकार के शपथ ग्रहण समाराेह में मनाेहरलाल ने मुख्‍यमंत्री और दुष्‍यंत चौटाला ने उपमुख्‍यमंत्री रूप में पद व गाेपनीयता की शपथ ली है। राज्‍यपाल सत्‍यदेव नारायण आर्य ने उनको शपथ दिलाई। समारोह में किसी अन्‍य मंत्री को शपथ नहीं दिलाई गई। शपथ ग्रहण समारोह में भाजपा के कार्यकारी राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा, पंजाब के पूर्व मुख्‍यमंत्री प्रकाश सिंह बादल व हरियाणा के पूर्व सीम भूपेंद्र सिंह हुड्डा सहित कई दिग्‍गज नेता मौजूद थे।

समारोह में हरियाणा भाजपा के प्रभारी डॉ. अनिल जैन, भाजपा के प्रदेश प्रधान सुभाष बराला और केंद्रीय मंत्री रतनलाल कटारिया भी मौजूद रहे। शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए जेपी नड्डा सुबह चंडीगढ़ पहुंचे। शपथ ग्रहण समारोह में दुष्‍यंत चौटाला के पिता डॉ. अजय चौटाला भी पहुंचे। दुष्‍यंत चौटाला की मां नैना चौटाला, छोटे भाई दिग्विजय चौटाला, अनूप धानक, दविंदर बबली, रणजीत चौटाला, संदीप सिंह, अमरजीत जुलाना आदि भी पहुंचे। समारोह में रामविलास शर्मा, ओम प्रकाश धनखड़, कैप्‍टन अभिमन्यु भी मौजूद रहे।

अब मंत्रिमंडल विस्तार से उम्मीद, हरियाणा के इन विधायकों के मंत्री बनने की है प्रबल संभावना

बता दें हरियाणा में मुख्यमंत्री के अलावा 13 मंत्री बनाए जा सकते हैैं। आठ मंत्री पद भाजपा व डिप्टी सीएम समेत पांच मंत्री पद जजपा के खाते में जा सकते हैैं। जेपी नड्डा ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल से शपथ ग्रहण से पहले उनके आवास पर चर्चा की। राज्‍यपाल सत्‍यदेव नारायण आर्य दोपहर बाद सवा दाे बजे मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल और उपमुख्‍यमंत्री दुष्‍यंत चौटाला को शपथ दिलाई। इस तरह मनोहरलाल ने मुख्‍यमंत्री के रूप में अपने दूसरे कार्यकाल शुरुआत की।

57 साल बाद लगातार दूसरी बार गैर कांग्रेसी दल की होगी सरकार

भाजपा ने 57 विधायकों का समर्थन जुटा लिया है। भाजपा के 40 और जननायक जनता पार्टी के 10 विधायकों के अलावा सात निर्दलीय विधायकों ने भी बिना शर्त समर्थन देने का एलान किया है। इससे पहले शनिवार को केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, भाजपा महासचिव अरुण सिंह और पार्टी प्रभारी डा. अनिल जैन के साथ मुख्यमंत्री मनोहर लाल व दुष्यंत चौटाला और अधिकतर आजाद विधायक दोपहर को राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य से मिलने पहुंचे।

हरियाणा राजभवन में सवा एक बजे से शुरू होगा शपथ ग्रहण समारोह

मनोहर लाल ने राज्यपाल के समक्ष 57 विधायकों का समर्थन होने का दावा करते हुए सरकार बनाने का निमंत्रण देने की पेशकश की। भाजपा की ओर से मनोहर लाल, जजपा की ओर से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सरदार निशान सिंह और निर्दलीय विधायकों की ओर से उनके लिखित समर्थन पत्र को भाजपा प्रभारी डा. अनिल जैन ने राज्यपाल को सौंपा।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने अपने मौजूदा कार्यकाल को खत्म मानते हुए इस्तीफा राज्यपाल को सौंपा। राज्यपाल ने इस्तीफा स्वीकार करते हुए शपथ ग्रहण तक कार्यकारी प्रभार संभालने का अनुरोध किया। राज्यपाल ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को सरकार बनाने का न्यौता दिया। 57 साल बाद लगातार दूसरी बार गैर कांग्रेसी दल की सरकार भाजपा व जजपा बनाने जा रहे हैं।

समारोह में भाग लेने पहुंचे डॉ. अजय चौटाला।

पांच मिनट के भीतर विधायक दल के नेता चुने गए मनोहर लाल

चंडीगढ़ के यूटी गेस्ट हाउस में सुबह करीब 11 बजे हरियाणा भाजपा विधायक दल की बैठक शुरू हुई। केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद दोपहर 12 बजे के आसपास पहुंचे। बैठक में सभी विधायक शामिल हुए। भाजपा प्रभारी डा. अनिल जैन व पार्टी महासचिव अरुण सिंह की मौजूदगी में मौजूदा कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने विधायक दल के नेता के लिए मनोहर लाल का नाम रखा। विधानसभा स्पीकर कंवरपाल गुर्जर ने विज के प्रस्ताव का अनुमोदन किया। रवि शंकर प्रसाद ने बाकी विधायकों से कहा कि यदि किसी को अपने नाम का प्रस्ताव रखना है तो वह रख सकता है, लेकिन कोई आगे नहीं आया। ऐसे में मनोहर लाल को सर्वसम्मति से विधायक दल का नेता चुन लिया गया। यह सारी प्रक्रिया पांच मिनट के भीतर पूरी कर ली गई।

कुल विधायक – 90

भाजपा विधायक – 40

जजपा विधायक – 10

निर्दलीय विधायक – 7

कुल जोड़ – 57

 

 

दिग्विजय चौटाला ने कांग्रेस पर साधा निशाना

दूसरी ओर, जननायक जनता पार्टी के नेता व दुष्‍यंत चौटाला के छोटे भाई ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस कह रही है कि BJP-JJP गठबंधन जनादेश के खिलाफ है। उनको यह याद रखना चाहिए कि जेजेपी कांग्रेस के खिलाफ भी जीतकर आई है। कांग्रेस संख्या नहीं जुटा सकी तो अब ऐसी बातें कर रही है। वह मजबूर थी न कि मजबूत न।

राजभवन तक पैदल चलकर गए मनोहर लाल और दुष्यंत

शनिवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल और दुष्यंत सिंह चौटाला चंडीगढ़ यूटी गेस्ट हाउस से हरियाणा राजभवन तक पैदल चलकर पहुंचे। गाडिय़ों का काफिला पीछे ही छोड़ दिया गया था। इससे पहले दुष्यंत चौटाला दोपहर 12 बजे चंडीगढ़ पहुंचे। अपने कार्यकर्ताओं से मिलने के बाद दुष्यंत करीब सवा बजे यूटी गेस्ट हाउस आए। आते ही केंद्रीय भाजपा नेताओं व मनोहर लाल से मिले। फिर पैदल ही राजभवन की तरफ निकल पड़े।

सातों निर्दलीय विधायकों ने बिना शर्त दिया भाजपा को समर्थन

भाजपा को बिना शर्त समर्थन देने वाले सभी सात निर्दलीय विधायक चंडीगढ़ यूटी गेस्ट हाउस पहुंचे। यह विधायक भाजपा की बैठक में तो शामिल नहीं हुए, लेकिन उन्होंने अलग-अलग केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद, डा. अनिल जैन, अरुण सिंह और मनोहर लाल से मुलाकात की। यूटी गेस्ट हाउस में काफी देर तक जब दादरी के विधायक सोमवीर सांगवान नहीं दिखे तो चर्चा हुई कि सिर्फ छह निर्दलीय विधायक स्रमर्थन देंगे, लेकिन राजभवन में सलेकिन राजभवन में सभी सात निर्दलीय विधायकों की हाजिरी होने का दावा किया गया।

लेकिन राजभवन में सभी सात निर्दलीय विधायकों की हाजिरी होने का दावा किया गया।

डा. अनिल जैन व निर्दलीय विधायक नैनपाल रावत तथा रणजीत सिंह चौटाला ने खुद इसकी पुष्टि की। भाजपा को जिन सात निर्दलीय विधायकों का समर्थन मिलने जा रहा है, उनमें पृथला से नयनपाल रावत, नीलोखेड़ी से धर्मपाल गोंदर, दादरी से सोमवीर सांगवान, महम से बलराज कुंडू, बादशाहपुर से राकेश दौलताबाद, रानियां से रणजीत सिंह चौटाला और पूंडरी से रणधीर गोलन शामिल हैं।

समर्थन देने वालों को साथ लेकर चहुंमुखी विकास करूंगा: मनोहर

” हमें जो जनादेश मिला है, हम उसका सम्मान करते हैं। मुझे दोबारा भाजपा विधायक दल का नेता चुना गया, इसके लिए सभी विधायकों का दिल से आभार। हमने पांच साल तक साफ सुथरी, पारदर्शी और भ्रष्टाचार रहित सरकार दी। आगे भी पूरे पांच साल तक ईमानदारी व पारदर्शिता से साफ सुथरी सरकार देने का काम करेंगे। हमारी सरकार को जो लोग साथी समर्थन कर रहे हैं, उन्हें सभी को साथ लेकर चला जाएगा। मैं पहले की तरह इस बार भी प्रदेश के चहुंमुखी तथा एकसमान विकास के लिए काम करूंगा।

दो प्रोग्रेसिव सोच के लोग मिलकर विकास को आगे बढ़ाएंगे: दुष्‍यंत

” कांग्रेस वह पार्टी है, जिसको देवीलाल जी ने छोड़ दिया था। हमें उनके साथ जाने का नहीं बनता। कांग्रेस ने दस साल तक प्रदेश को लूटा। सबके सामने उनके जमीनों के लूट के मामले सामने हैं। अब दो प्रोग्रेसिव सोच के लोग मिलकर हरियाणा को विकास के रास्ते पर ले जाएंगे। रही अजय चौटाला जी के पैरोल के आने की बात, उनके आने से हमारे कंधे मजबूत होंगे।

गले पांच साल बिना भेदभाव के चलेगी भाजपा सरकार : रविशंकर

” मुख्यमंत्री मनोहर लाल ईमानदार छवि के नेता हैं। उन्होंने पूरे पांच साल बढिय़ा तरीके से ईमानदारी व पारदर्शी तरीके से सरकार चलाई। आगे ही सरकार पूरी ईमानदारी, निष्ठा, योग्यता, पारदर्शी ढंग से बिना किसी तरह के क्षेत्रवाद या भ्रष्टाचार के पांच साल तक चलेगी। मैं हरियाणा की नई टीम को बधाई देता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *