अब कुत्ते की नसबंदी पर देनी होगी दोगुनी फीस साउथ एमसीडी का ऐलान,

देश मनोरंजन राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय सामाजिक

सिटी तहलका, दिल्ली 31

मार्च. नई दिल्ली के साउथ एमसीडी ने ऐलान किया है कि अब आवारा कुत्तों के आतंक से निजात दिलाने के लिए नसबंदी की दो गुनी फीस ली जाएगी. इस कदम के बाद कुत्तों की नसबंदी भी ज्यादा संख्या में की जा सकेगी. इस बार एमसीडी ने कुत्तों की नसबंदी के टारगेट में भी इजाफा किया है. इसके मददेनजर विभाग नसबंदी सेंटरों की संख्या भी बढाने की सोच रहा है. साउथ एमसीडी वैटरनिटी विभाग के सूत्रों की मानें तो अभी तक कुत्तों को पकडकर नसबंदी करने और उसके बाद उन्हें स्वस्थ कर उसी जगह छोडने वाले एनजीओ की फीस महज 770 रूपये थी, लेकिन अब इसमें इजाफा कर 15 सौ रूपये पर कुत्ता कर दिया गया है. यह भी कहा गया है कि अगर एमसीडी कर्मचारी आवारा कुत्तों को पकडकर नसबंदी सेंटरों तक छोडते हैं तो एनजीओ पर कुत्ता 14 सौ रूपये लेगी. दूसरी ओर ऐसे सेंटरों के संचालक एनजीओ के मालिकों को कहना है कि यह फीस इसलिए दोगुनी की गई है, क्योंकि नसबंदी की लागत में भी लगातार इजाफा हो रहा है. कुत्ता पकडने वाले स्टाफ, वेटरनिटी डाक्टरों, दवाइयों और आहार की लागत में निरंतर बढोतरी हो रही है. सूत्रों का मानना है अगर फीस में बढोतरी नहीं की जाती तो कुत्तों को पकडने और नसबंदी में मुश्किल तो होगी ही, एमसीडी पर भी लगभग 35 करोड का अतिरिक्त बोझ पडेगा. यह भी कहा गया कि कुत्तों की नसबंदी में इजाफा करने के मकसद से दिल्ली के दो सरकारी अस्पतालों में नसबंदी सेंटर खोले जाने पर विचार हो रहा है. सेंटर की संख्या बढाने को जगह भी चिन्हित की जा रही है. सूत्रों का कहना है कि इस साल विभाग का लक्ष्य साठ हजार कुत्तों की नसबंदी कराने का लक्ष्य है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *